Wednesday, May 29, 2024
HomeLoveAttitude shayari in hindi

Attitude shayari in hindi

Attitude shayari in hindi

मेरे भाई शेर को जगाना

और हमे सुलाना मित्र

किसी के बस की बात नही है

और हम वहाँ खड़े होते हैं

जहाँ पर मैटर बड़े होते हैं

 

बादशाह हो या मालिक सलामी हम नही करते
पैसे हो या कोई राजकुमारी गुलामी हम नही करते

 

Attitude उतना ही दिखाओ
जितना तुम्हारे सकल पे सूट करें

Attitude shayari in hindi

मेरे पास जुनून है तभी तो
तेरा गुरुर मेरे सामने चकनाचूर है

 

खफा होने से पहले
मेरी जिंदगी से दफा हो जाना

Attitude shayari

Attitude shayari

रूठे हुओ को मनाना
और गैरो को हसाना हमे पसंद नही

 

ज़रा सा वक़्त क्या बदला नज़र मिलाने लगे
जिनकी औक़ात नहीं थी वह भी सर उठाने लगे

 

तेरे चेहरे के हजारों चाहने वाले पर
BABY मेरे STATUS के लाखो दिवाने

Attitude shayari

फर्क बहुत है तेरी और मेरी तालीम में

तूने उस्तादों से सीखा है और मैंने हालातो से

 

प्यार से बात करोगे तो प्यार ही पाओगे
अगर अकड़ के बात की तो मेरी Block List में नज़र आओगे

Shayri attitude

Shayri attitude

 

अपना कोई क्या बिगाड़ सकता है
अपनी तो क़िस्मत उसने लिखी है
जिसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता

 

जब चलना नहीं आता था तो लोग गिरने नहीं देते थे
जब से संभाला है खुद को लोग पैर-पैर पर गिराने की कोशिश करते हैं

 

जिन्हे हम जहर लगते हैं
वो कौनसा हमे शहद लगते हैं

Shayri attitude

रेस वो लोग लगाते है जिसे अपनी किस्मत आजमानी हो
हम तो वो खिलाडी है जो अपनी किस्मत के साथ खेलते है

 

हम बुरे है इसमें कोई शक नहीं
पर कोई बुराई करे
इतना किसी को हक़ नहीं

Attitude shayari 2 line

Attitude shayari 2 line

मैंने कब कहा कीमत समझो तुम मेरी
हमें बिकना ही होता तो यूँ तन्हा ना होते

 

ज़िंदगी अपनी अंदाज़ में जीनी चाहिए
दूसरों के कहने पर तो
शेर भी सर्कस में नाचते हैं

 

इतना Attitude मत दिखा अपने दिमाग का
जितना तेरा दिमाग है, उतना तो मेरा खराब रहता है

Attitude shayari 2 line

आप होशियार है अच्छी बात है
पर हमें मुर्ख न समझे यह उससे भी अच्छी बात हैं

 

एक उसूल पर गुजारी है जिंदगी मैंनें
जिसको अपना माना उसे कभी परखा नही

Gangster shayari attitude

Gangster shayari attitude

शरीफ इतना रहो
जितनी दुनिया रखे

 

मिल सके आसानी से, उसकी ख्वाहिश किसे है
ज़िद तो उसकी है जो मुकद्दर में लिखा ही नहीं

 

लहजे में बत्तमीजी और चेहरे पर नकाब लिए फिरते है
जिनके खुद के खाते ख़राब हैवो मेरा हिसाब लिए फिरते है

Gangster shayari attitude

इतने अमीर तो नहीं कि सब कुछ खरीद ले
पर इतने गरीब भी नहीं हुए कि खुद बिक जाएँ

 

अपने कद का अंदाज़ा हमें भी है लाड़ले

हम परछाई देख कर गुरुर नही करते

Popular posts

My favorites